चाहेंगे तुझे पर कभी रुस्वा न करेंगे – तलत अझीझ

स्वर : तलत अझीझ

शायर : सईद राही

चाहेंगे तुझे पर कभी रुस्वा न करेंगे
साये से भी अपने तेरा शिकवा न करेंगे

पूछेंगे हवाओँ से घटाओँ से तेरा हाल
मिलने को तेरे वास्ते आया न करेंगे

तु मिल भी गया राह में भुले से जो मुझको
मिलने का दुबारा कभी वादा न करेंगे

जिस नाम की ताझीम किया करते हैं परदे
उस नाम को दिवार पे लिखा न करेंगे

Post comment

Follow us on

GazalMehfil on Twitter GazalMehfil on Facebook Subscribe Daily Headlines GazalMehfil RSS Feeds Gazalmehfil On Mobile

Enter your email address:

Adverts

Adverts

Categories

Recent Posts

DISCLAIMER

This site has been created in appreciation of Hindi, Urdu gazals. & we are pleased to share this with all who love to listen them. If any of these gazals cause violation of the copyrights and is brought to my attention, I will remove the concerned gazals from the website promptly.

Tags

Networked Blogs

 

Visitor in the world.